कोरोना संकट के बीच योगी आदित्यनाथ और प्रियंका गांधी साध रहे हैं एक-दूसरे पर निशाना

0


नई दिल्ली :उत्तर प्रदेश में कोरोना संकट के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी एक-दूसरे पर निशाना साध रहे हैं।उत्तर प्रदेश में कोरोना संकट के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी एक-दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। पहले प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वह प्रवासी मजदूरों के लिए काम नहीं कर रहे हैं।
पहले प्रियंका गांधी ने गाजियाबाद में उमड़ी भीड़ को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा जिसके बाद सीएम योगी ने पलटवार करते हुए उनसे 4 सवाल पूछे सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्विटर पर कांग्रेस के द्वारा लगाए गए सवालों के जवाब में खुद ही सवाल पूछ लिया है

सीएम योगी ने कांग्रेस से पूछा कि क्या औरैया में हुए हादसे की जिम्मेदारी कांग्रेस सरकार लेगी
सीएम योगी ने पूछे कांग्रेस से यह 4 सवाल

1. जब आपके पास 1000 बसें थीं, तो राजस्थान और महाराष्ट्र से ट्रकों में भरकर हमारे साथियों को उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड व बंगाल क्यों भेज रहे हैं?
2. औरैया में हुई दर्दनाक सड़क दुर्घटना से पूरा देश आहत है। एक ट्रक पंजाब से और दूसरा राजस्थान से आ रहा था।
3. प्रियंका जी कहती हैं कि उनके पास 1000 बसें हैं। यह और बात है कि अब तक इन बसों की सूची तक उपलब्ध नहीं कराई गई, न ही हमारे साथियों की। बसों और हमारे साथियों की सूची उपलब्ध करा दी जाए, जिससे उनके कार्य ट्विटर नहीं धरातल पर दिखें।
4. देशभर में जितनी भी श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चल रही है उनमें से आधी से ज्यादा ट्रेनें उत्तर प्रदेश ही आईं है। अगर प्रियंका वाड्रा जी को हमारी इतनी ही चिंता है तो वो हमारे बाकी साथियों को भी ट्रेनों से ही सुरक्षित भेजने का इंतजाम कांग्रेस शासित राज्यों से क्यों नहीं करा रहीं?
वहीं दूसरी तरफ योगी सरकार ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बसों वाले प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। योगी सरकार ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का प्रवासी मजदूरों के लिए 1000 बस चलाने का प्रस्ताव स्वीकार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here