प्रियंका गांधी की ओर से उत्तर प्रदेश के मजदूरों के लिए बस चलाने के प्रस्ताव को योगी सरकार ने किया स्वीकार ….साथ ही लगाएं कई गंभीर आरोप

0

लखनऊ: प्रियंका गांधी की ओर से उत्तर प्रदेश में मजदूरों के लिए 1000 बसें चलाए जाने को लेकर राज्य सरकार से इजाजत मांगने का मामला सामने आया था। उनके इस प्रस्ताव को प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की ओर से स्वीकार भी कर लिया गया था और साथ ही बिना कोई देर किए बसों और ड्राइवर की लिस्ट देने के लिए कहा था। इस पर कांग्रेस की ओर से कहा गया कि लिस्ट तैयार की जा रही है, अब बीजेपी मजदूरों के नाम पर घटिया राजनीति करने का कांग्रेस पर आरोप लगा रही है और साथ ही प्रियंका गांधी और उनकी पार्टी पर तीखा हमला भी बोला है।

प्रियंका गांधी पर बीजेपी का पटलवार

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता डॉ. चंद्रमोहन ने प्रियंका गांधी पर निशाना साधते हुए उन पर नौटंकी करने, घटिया और ओछी राजनीति करने सहित कई आरोप लगाए हैं और साथ ही कांग्रेस शासित राज्यों में सक्रिय नहीं रहने को लेकर भी आरोप लगाए हैं। डॉ. चंद्रमोहन ने अपना एक वीडियो ट्विटर पर पोस्ट करते हुए कैप्शन में लिखा, ‘आपदा के समय सहयोग करिए, नौटंकी नहीं प्रियंका जी! कांग्रेस शासित राज्यों से पलायन करने वाले कामगारों की भी चिंता कर लें तो समूची मानवता पर उपकार होगा। मीडिया की सुर्खियां बटोरने के लिए उप्र में 1000 बसों का पैंतरा मारना अच्छी बात नही है।’

उन्होंने अपने वीडियो में सवाल उठाते हुए कहा, ‘अगर कांग्रेस के पास बसें हैं तो बीजेपी उनसे पूछना चाहती है कि बीजेपी शासित राज्यों में कामगारों के लिए व्यवस्था क्यों नहीं की गई? वहां पर उन्हें बसों से उतारकर ट्रकों में क्यों बैठाया गया। कांग्रेस राजस्थान, पंजाब और राजस्थान से व्यवस्था दे। एक तरफ कह रहे हैं यूपी बॉर्डर पर बसें तैयार खड़ी है, दूसरी ओर कहते हैं हम लिस्ट बना रहे हैं। कांग्रेस ये ओछी और घटिया राजनीति के साथ नौटंकी करना बंद करे।

Dr.Chandra Mohan@Chandramohanbjp

आपदा के समय सहयोग करिये,नौटंकी नही @priyankagandhi जी!

कॉंग्रेस शासित राज्यों से पलायन करने वाले कामगारों की भी चिंता कर लें तो समूची मानवता पर उपकार होगा। मीडिया की सुर्खियां बटोरने के लिए उप्र में 1000 बसों का पैंतरा मारना अच्छी बात नही है। गौरतलब है कि इससे पहले बसों के लिए मंजूरी देने और लिस्ट उपलब्ध कराने की इजाजत दिए जाने के बाद, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय की तरफ से कांग्रेस और प्रियंका गांधी पर निशाने साधते हुए 4 सवाल किए गए थे। ट्वीट कर कहा गया, ‘मजदूरों की मददगार बनने का स्वांग रच रही कांग्रेस से मजदूर भाइयों और बहनों के कुछ सवाल:’

बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह किया कि प्रवासी मजदूरों के लिए गाजियाबाद और नोएडा से 1000 बसें चलाने की अनुमति प्रदान की जाए
प्रियंका गांधी ने कहा था, ‘पलायन कर रहे बेसहारा प्रवासी श्रमिकों के प्रति कांग्रेस पार्टी अपनी ज़िम्मेदारी निभाते हुए 500 बसें गाज़ीपुर बार्डर-गाज़ियाबाद और 500 बसें नोएडा बार्डर से चलाना चाहती है इसका पूरा खर्च कांग्रेस पार्टी वाहन करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here