हाथियों ने ली पूर्व जिला पंचायत सदस्य की जान…प्रतापपुर रेंज के खरसोता जंगल की घटना

0

प्रतापपुर। सूरजपुर जिले में हाथियों ने पूर्व जिला पंचायत सदस्य की जान ले ली है, घटना प्रतापपुर रेंज अंतर्गत खरसोता जंगल की है।ग्रामीणों ने बताया कि मृतक अपने गांव पकनी से खरसोता जाने सोमवार को पैदल जंगल के रास्ते निकले थे, तीन दिन से नहीं दिखने के कारण जब आज ग्रामीण उन्हें ढूंढने निकले तो गांव से कुछ दूर जंगल में उनका शव मिला।पूर्व जिला पंचायत की जान लेने वाला हाथियों का दल प्यारे का बताया जा रहा है।

प्रतापपुर के गणेशपुर में कई दिन रहने व इनमें से तीन मादा हाथियों की मौत के बाद प्यारे हाथी का दल घुइ रेंज के पकनी व आसपास के जंगलों में रह रहा था।इतने दिनों से यह दल जंगल में ही रह रहा था और प्यारे व एक अन्य हाथी आबादी की ओर आकर फसलों व घरों को नुकसान पहुंचा रहा था लेकिन अब इनके द्वारा एक बुजुर्ग की जान लेने की जानकारी मिल रही है,बताया जा रहा है कि मृतक पूर्व जिला पंचायत सदस्य शंकर सिंह है।

मिली जानकारी के अनुसार शंकर सिंह अपने गृहग्राम पकनी में अकेले रहते थे क्योंकि उनके दोनों बेटे नौकरी के कारण गांव से बाहर रहते हैं और परिवार में और कोई नहीं हैं।सोमवार को वे खरसोता जाने के लिए अकेले पैदल ही जंगल के रास्ते निकले थे जिन्हें स्थानीय कुछ लोगों ने जाते देखा था।आज सुबह कुछ लोगों ने आपस ने चर्चा की कि शंकर सिंह तीन दिनों से गाँव में दिख नहीं रहे हैं,जिसके बाद उन्होंने खरसोता भी पता लगाने का प्रयास किया और जब कोई जानकारी नहीं मिल पाई तो कुछ लोग आज दोपहर 3 बजे के करीब जंगल के रास्ते उन्हें ढूंढने निकल गए।जंगल में वे कुछ दूर गए ही थे कि उन्हें शंकर सिंह का शव दिखाई दिया,उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी गांव में दी जिससे वहां हड़कम्प मच गया।गांव वालों ने इसकी जानकारी वन विभाग को दी,मिली जानकारी के अनुसार वन विभाग के साथ पुलिस के अधिकारी कर्मचारी शाम तक गांव तो पहुंच गए थे,यह भी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उनकी मौत कब हुई है लेकिन बताया जा रहा है कि शव बुरी तरह सड़ गई है।बरहाल पूर्व जिला पंचायत सदस्य की मौत हाथियों के हमले में होने के बाद गांव में शोक की लहर व दहशत फैल गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here