कंटेन्मेंट जोन से 6 महिलाओं के भागने से प्रशासन में मचा हड़कंप.. महिलाओं व ड्यूटीरत कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की हो रही तैयारी..

0

चंद्रिका कुशवाहा

प्रतापपुर – सूरजपुर जिले के अंतर्गत देर रात बंजा कंटेंमेंट जोन से 6 महिलाओं के भाग जाने पर प्रशासन में हड़कंप मच गया है। भागी हुई महिलाओं व ड्यूटीरत कर्मचारियों के विरुद्ध प्रशासन कार्रवाई की तैयारी कर रही है।

सूरजपुर जिला अंतर्गत भैयाथान के बंजा में कोरेण्टाइन सेंटर बनाया गया था जहां कुछ दिन पहले एक महिला के कोरोना पोसिटिव केस सामने आने के बाद कंटेन्मेंट जोन घोषित कर दिया गया था।अब इस कंटेन्मेंट जोन में साथ जिला प्रशासन में उस समय हड़कम्प मच गया जब यहां से 6 महिलाएं रात में ही घर भाग गईं।जानकारी के अनुसार वहां ड्यूटी कर रहे कर्मचारियों को उन्होंने फांसी लगाने की धमकी दी और अपने घरों से गाड़ियां मंगा अपने घर को चली गईं।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये महिलाएं भैयाथान,ओड़गी और प्रतापपुर विकासखण्ड में विभिन्न गांवों की हैं,इन्होंने रात में एक साथ प्लानिंग की और वहां डयूटी कर रहे कर्मचारियों को फांसी लगाने की धमकी दी।इनकी इस धमकी के बाद कर्मचारी डर गए और उन्होंने महिलाओं को बाहर जाने दे दिया,बताया जा रहा है कि उन्होंने पहले से ही अपने घरों में फोन कर गाड़ियां मंगा ली थीं।जैसे ही वे बाहर निकलीं गाड़ियां बाहर खड़ीं थीं जिनमे बैठ वे रात में ही अपने अपने घर पहुंच गईं।इनके जाने के बाद सूचना जिला में अधिकारियों के साथ कण्टेन्मेंट जोन में अन्य लोगों को मिली जिसके बाद उनमें हड़कम्प मच गया।बताया जा रहा है कि वहां से भागीं सभी महिलाएं अपने घरों में हैं और जिला कार्यालय से सम्बंधित विकासखण्ड के खंड चिकित्सा अधिकारियों को सूचना दी गई है,फिलहाल यह गम्भीर मामला है और देखने वाली बात होगी कि प्रशासन इस पर क्या कार्यवाही करता है।

प्रशासन एफआईआर दर्ज कराने की कर रही तैयारी

प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रशासन अब इस मामले में एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी कर रहा है,अभी यह स्पष्ट तो नहीं है कि यह कार्यवाही किसके किसके खिलाफ होगी लेकिन सूत्रों के अनुसार वहां ड्यूटी कर रहे कर्मचारियों के साथ उक्त महिलाओं व उन्हें लेने गए परिजनों के खिलाफ एफआईआर हो सकती है।

परिवार के सदस्यों के साथ घरों में कोरेण्टाइन की तैयारी…

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला प्रशासन ने भागी महिलाओं की सूची सभी विकासखण्ड के चिकित्सा अधिकारियों को दी गई है और भागी महिलाओं के साथ उनके घरों में सदस्यों को होम कोरेण्टाइन करने की तैयारी की जा रही है।फिलहाल यह बहुत गम्भीर मामला है और देखने वाली बात होगी कि प्रशासन इस पर क्या कार्यवाही करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here