पंचायत प्रतिनिधियों के साथ मिलकर जनपद पंचायत सीईओ के विरुद्ध शिकायत करने वाले सरपंच को पद से पृथक करने का नोटिस जारी

0

कुनकुरी जशपुर जिले के बड़े पंचायतो में शुमार फरसाबहार जनपद के केरसई ग्राम पंचायत के जनप्रतिनिधियों के द्वारा जनपद सीईओ सुभाष कछवाहा के विरुद्ध की गई शिकायतबाजी का मामला फिलहाल थमता हुआ नही दिख रहा है।सीईओ के विरुद्ध शिकायत सामने आने के बाद शिकायतकर्ताओं पर कार्यवाही का डंडा चलना शुरू हो गया है।2 दिन पहले केरसई ग्राम पंचायत के सरपँच को पद से पृथक किये जाने का नोटिस जारी करने के बाद जिला पंचायत ने अब इसी ग्राम पंचायत के पंचायत सचिव के विरुद्ध निलंबन की कार्यवही का नोटिस जारी कर दिया है और 3 दिवस के भीतर नोटिस का जवाब देने को कहा गया है।
जिला पंचायत द्वारा जारी नोटिस में पंचायत सचिव संतोष के विरुद्ध कोहपानी ग्राम पंचायत में निर्मित तटबंध में तकरीबन 6 लाख गबन,केरसई ग्राम पंचायत में एक फर्म के नाम पर 6 लाख 29 हजार का गैरजरूरी आहरण,पीडीएस हितग्राहियों से 10-10रुपये की अवैध वसूली के साथ साथ उच्चाधिकारियो के आदेश न मानते हुए संस्था के अधिकारियों के विरुद्ध झूठी शिकायत का षड्यंत्र रच संस्था की छवि धूमिल किये जाने के संगीन आरोप हैं।
आपको बता दें कि बीते मंगलवार को केरसई ग्राम पंचायत के सरपँच सहित अन्य जनप्रतिनिधियो ने जिला पंचायत सदस्य विष्णुकुल्दीप से सीईओ के विरुद्ध 14वे वित्त की राशि से कमीशन मॉगने की एकमुश्त शिकायत की थी ।इस शिकायत के बाद विष्णु कुलदीप ने सीईओ कछवाहा के आर्थिक रिकार्ड का भंडाफोड़ करते हुए मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखा जो कि सोशल मीडिया में भी खूब वायरल हुआ।शनिवार को फरसाबहार जनपद के सभी जनपद सदस्यों ने कलेक्टर से मुलाकात कर सीईओ के विरुद्ध एक पेज का शिकायती ज्ञापन सौंपा और कछवाहा को फरसाबहार से हटाने की मांग की ।
मजे की बात ये कि जनप्रतिनिधियो की ताबड़तोड़ शिकायतबाजी के बावजूद शिकायतकर्ताओं के विरुद्ध ताबड़तोड़ कार्यवाही भी जारी है।दो दिन पहले केरसई ग्राम पंचायत की सरपँच को एसडीएम ने सरपँच को पद से पृथक करने का नोटिस जारी कर दिया तो आज केरसई ग्राम पंचायत के सचिव को जिला पंचायत कार्यालय द्वारा निलंबित किये जाने की खबर आ गयी है।सूत्र बताते है कि 6 लाख 29 हजार का एकमुश्त बिल देने वाले फर्म राहुल वर्मा (उपसरपंच)के विरुद्ध भी नोटस जारी की गई है और उन्हें भी पेशी में बुलाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here