प्रदेश में फिर एक हाथी की मौत…घर के चारों तरफ बिजली का तार लगा कर ले ली हाथी की जान..आरोपी दंपति हिरासत मे

0

जशपुर – प्रदेश में पिछले कुछ महीने पहले लगातार एक के बाद एक लगभग आधा दर्जन हाथियों की मौत ने पूरे प्रदेश को हिला कर रख डाला था ।जिसके बाद प्रदेश के कुछ वन अधिकारियों पर गाज गिरा कर मामले   पर लीपापोती कर दी गई थी यदि समय रहते शासन द्वारा प्रदेश के वरिष्ठ वन अधिकारियों के ऊपर नकेल कस दी गई होती तो असमय ही आधा दर्जन हाथियों की मौत पर विराम लगाया जा सकता था। आज ताजा मामला तब देखने को मिला जब तपकरा मेें हाल ही में गांव में ग्रामीणों के लिए सर्पदंश की घटनाएं एवं अन्य घटनाएं कम हो इसके लिए बिजली की उपलब्धता करवाई गई है किंतु इसके विपरीत ग्रामीण इसका गलत फायदा उठा रहे हैं जिसकी परिणीति स्वरूप आज एक नर दतैल हाथी को मौत की नींद सुला दिया गया

जहां एक समय बाद यह हाथी विलुप्त होते नजर जाएंगे। आज तपकरा थाना क्षेत्र के झिलीवेरना गांव में रंजीत केरकेट्टा पिता स्वर्गीय मानवेल केरकेट्टा 45 साल एवं उसकी पत्नी आनंद किस्पोट्टा ने अपने घर के सुरक्षा के लिए चारों ओर कटीले तार से घेरा बना कर रखा था जिसमें उनके द्वारा प्रतिदिन करंट प्रवाहित कर दिया जाता था इसी दौरान आज तड़के सुबह एक नर दंतेल हाथी उस कंटीले तार के प्रवाहित करंट की चपेट में आ गया एवं हाथी कि मौत हो गई

हाथी की मौत की खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गई जिसको देखने के लिए ग्रामीणों का हुजूम इकट्ठा हो चुका है ।वहीं ग्रामीण गांव में हाथी की मौत को लेकर तरह-तरह के सवाल कर रहे हैं। वन विभाग के प्रकरण क्रमांक 15509 /06 धारा वन्य प्राणी अधिनियम 1972 की धारा9,51 तहत आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है मामले में विवेचना जारी है।

आला अधिकारी खबर पाकर मौके पर पहुंच चुके हैं एवं नर दंतेल हाथी के पोस्टमार्टम किया जा चुका है हाथी के दांत सुरक्षित निकालकर वन विभाग ने अपने मे सुपुर्द ले लिया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here