एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों के विरुद्ध किया प्रदर्शन… चुनाव पूर्व किए गए वादे की दिलाई याद…प्रधानमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा

0

अम्बिकापुर -एनएसयूआई द्वारा प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा एवं आदित्य भगत के आवाहन पर एनएसयूआई के प्रदेश सचिव नीतीश ताम्रकार अनुराग सिंह व कार्यकर्ताओं द्वारा केंद्र सरकार कोविड-19 महामारी के संकटकाल में बेवजह पेट्रोल एवं डीजल पर अतिरिक्त टैक्स वसूल कर आर्थिक समस्या से जूझ रही जनता पर मानसिक तथा आर्थिक महंगाई का वज्र प्रहार कर रही है, जिसके संबंध में आंदोलन पर कलेक्टर महोदय को प्रधानमंत्री जी के नाम का ज्ञापन सौंपा गया जिसमें निम्नलिखित मांगो पर विरोध जताया गया।
1. वैश्विक महामारी व आम आदमी की आर्थिक स्थिति को देखते हुए पेट्रोल डीजल के मूल्य में तत्काल कमी की जाए।
2. माननीय प्रधानमंत्री जी से मांग है कि अगर आप ऐसे ही पेट्रोल डीजल के मूल्यों को बढ़ाते हैं तो पेट्रोल डीजल हेतु लोन देना भी अनिवार्य करें।
एनएसयूआई के प्रदेश सचिव नीतीश ताम्रकार ने बताया कि जो देश की परिस्थिति बनने वाली है उसमें बेरोजगारी सबसे बड़ी समस्या है, एवं सीमा सुरक्षा के मामले है जो गलवान घाटी में युद्ध के माहौल हैं इस परिस्थिति में जब बॉर्डर पर बल, हथियार एवं सामग्री आपूर्ति की जाएगी तो निश्चित ही देश की अर्थव्यवस्था और चरमरायेगी।
पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों की वजह से आम जनता को अनावश्यक महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है, सभी प्रकार की वस्तुएं ट्रांसपोर्ट बढ़ने की वजह से महंगी हो गई हैं जिससे देशवासियों की आर्थिक स्थिति बद से बदतर हो रही है।

नीतीश ताम्रकार ने बताया कि केंद्र सरकार व प्रधानमंत्री मोदी को यह याद दिलाना चाहते हैं कि आपने चुनाव से पहले देशवासियों से वादा भी किया था कि जब भाजपा की सरकार होगी तो पेट्रोल डीजल के दाम 30 से ₹35 के बीच होंगे। अवगत हो कि कच्चे तेल का मूल्य भी बहुत कम है इंधन का मूल्य आपके पूर्व वादों के अनुसार होना चाहिए।
एनएसयूआई के प्रदेश सचिव नीतीश ताम्रकार ने मोदी सरकार से मांग की है कि, मामले की गंभीरता को संज्ञान में लेते हुए पेट्रोल डीजल पर टैक्स कम करें ताकि कोरोना महामारी के समय आर्थिक रूप से जूझ रहे देशवासियों पर और महंगाई की मार ना पड़े। इस कार्यक्रम के दौरान एनएसयूआई कार्यकर्ता व ट्रक मालिक ट्रांसपोर्टरो द्वारा गांधी चौक में केंद्र सरकार के विरोध में नारेबाजी कर पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों को लेकर विरोध जताया साथ ही पेट्रोल डीजल के लोन हेतु मोदी सरकार से गुहार लगाई एवं गाड़ियों की चाबी के साथ कलेक्टर महोदय को प्रधानमंत्री के नाम का ज्ञापन सौंपा गया। इस कार्यक्रम के दौरान नीतीश ताम्रकार, विवेक चंद्र, अनुराग सिंह, मनीष दुबे, राहुल कुमार, राहुल चौबे, अमित तिवारी, प्रिंस जायसवाल, अनुराग दुबे, ललित सोनी, अनिकेत चौधरी, शंभू मजूमदार, राहुल सिंह, प्रफुल्ल यादव, संजय सोनकर, अजय साहू, अभिराज सिंह, आदित्य यादव, शिवम सिंह, अनुराग सिंह, विशु एवं बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here