मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कोविड-19 हेतु बनाये गए आइसोलेशन वार्ड में दो संदिग्ध व्यक्तियों की मौत

0

अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बनाये गए आइसोलेशन वार्ड में दो संदिग्ध व्यक्तियों की मौत होने का मामला सामने आया है।इस घटना के बाद से हड़कम मचा हुआ है।इनमे एक महिला और एक पुरूष शामिल है दोनों सूरजपुर जिले के रहने वाले है।स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार ।सूरजपुर जिले के भैयाथान निवासी एक पुरूष और ग्राम ललाती निवासी एक महिला की तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें इलाज के लिए 6 माई को अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया था।
चिकित्सकों के मुताबिक पुरुष को पेड़ संबंधित बीमारी थी।वही महिला ह्रदय संबंधित बीमारी से पीड़ित थी।दोनों पीड़ितों को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी।कोविड 19 से संक्रमित होने के संदेह पर डॉक्टरों ने पीड़ितों को इलाज के लिए आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया।और अन्य मरीजों से अलग रखकर उनका इलाज करने लगे।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी का कहना है कि दोनों पीड़ितों का रैपिड टेस्ट किया गया था। रैपिड टेस्ट में पीड़ितों की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने एहतियातन के तौर पर पीड़ितों का सैंपल लेकर कोविड-19 की जांच के लिए रायपुर भेजा था।जांच रिपोर्ट आती और यह पता चलता कि दोनों कोविड-19 से संक्रमित हैं या नहीं इससे पहले गुरुवार की देर रात दोनों की इलाज के दौरान मौत हो।

वही शुक्रवार की सुबह पीएम किए बिना शव को सैनिटाइज करने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया।इसके बाद परिजन शव को सूरजपुर लेकर रवाना हो गए।गौरतलब है कि मृतकों का अब तक कोविड-19 की जांच रिपोर्ट नहीं आया।ऐसे में शव को परिजनों को सपना घातक साबित हो सकता है।हालांकि जिला स्वास्थ्य अधिकारी का कहना है कि रैपिड टेस्ट में नेगेटिव आने के बाद कोविड 19 से संक्रमित होने का खतरा टल गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here